सीमित ओवरों में सर्वश्रेष्ठ एकादश चुनने की कोशिश है : मोर्गन

सीमित-ओवरों-में-सर्वश्रेष्ठ-एकादश-चुनने-की-कोशिश-है-:-मोर्गन

साउथैम्पटन, 2 अगस्त (आईएएनएस)। इंग्लैंड की सीमित ओवरों की टीम के कप्तान इयोन मोर्गन ने आयरलैंड को दूसरे मैच में मात देने के बाद अपनी टीम की गहराई की तारीफ की है।

इंग्लैंड ने शनिवार देर रात आयरलैंड को दूसरे वनडे में चार विकेट से मात दे तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की बढ़त ले ली है।

इस सीरीज में इंग्लैंड की टीम में एक भी वो खिलाड़ी नहीं है जो हाल ही में वेस्टइंडीज के साथ खत्म हुई तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में टीम का हिस्सा था। यह एक नई टीम है जिसमें कई युवा चेहरे हैं।

मैच के बाद पुरस्कार वितरण समारोह में मोर्गन ने कहा, हमारे पास शीर्ष क्रम में कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो बल्ले से मैच का परिणाम बदल सकते हैं, उनके पास काबिलियत है। यह खिलाड़ी विपक्षी टीम से मैच छीन सकते हैं।

उन्होंने कहा, मैं नंबर-4 पर बल्लेबाजी करने जा रहा था लेकिन फिर हमने रणनीति बदल दी। मैं युवा खिलाड़ियों को मौका देकर खुश हूं। दो बबल रहने के कारण यह मुश्किल है, जाहिर सी बात है कि टेस्ट मैच प्राथमिकता है। हम सीमित ओवरों में सर्वश्रेष्ठ एकादश चुनने की कोशिश कर रहे हैं।

इंग्लैंड को जीत के लिए 213 रन बनाने थे। जॉनी बेयरस्टो तेजी से रन बना रहे थे, लेकिन तीन लगातार विकेट गिरने से इंग्लैंड परेशानी में आ गई थी। 16वें से 20वें ओवर तक बेयरस्टो, मोर्गन और मोइन अली पवेलियन लौट गए थे और टीम का स्कोर छह विकेट पर 137 रन था। यहां से डेविड विले और सैम बिलिंग्स ने सातवें विकेट के लिए 79 रनों की साझेदारी कर टीम को जीत दिलाई। बिलिंग्स ने 61 गेंदों पर नाबाद 46 रन बनाए और विले ने 46 गेंदों पर नाबाद 47 रन बनाए।

मोर्गन ने कहा, आज चुनौती थी लेकिन हम हमेशा जीत के इरादे के साथ खेलते हैं। हमने निश्चित तौर पर विकेट खो दिए थे लेकिन जिस तरह से हमारे खिलाड़ी खेले, खासतौर पर बेयरस्टो और फिर इसके बाद बिलिंग्स और विले, यह बताते हैं कि हमारी बल्लेबाजी में गहराई है। साथ ही मुझे लगता है कि हमारे गेंदबाजों ने भी शानदार काम किया।

वहीं आयरलैंड के कप्तान एंडी बालबर्नी ने माना कि मेहमान टीम बल्ले और गेंद से विपक्षी टीम के सामने कमजोर थी लेकिन उन्होंने कर्टिस कैम्पर के प्रयास की तारीफ की है।

उन्होंने कहा, हमारे रन कम थे और शुरुआत में जो चार-पांच विकेट गिरे थे उससे हमें परेशानी हो गई। कैम्पर आज शानदार बल्लेबाजी कर रहे थे और उन्होंने हमें रास्ता दिखाया। अगर आप कम स्कोर के साथ खेल रहे हो तो आपको आक्रामक होना पड़ता है। हमें इसी चीज की जरूरत है। उन्होंने हमें मैच मे वापस ला दिया था। हमने पिछले दो मैचों में जिस तरह की बल्लेबाजी की है हमें उससे बेहतर करनी होगी।

कैम्पर ने इस मैच में 68 रनों की पारी खेली और पिछले मैच में जो उनका पदार्पण मैच था उसमें भी अर्धशतक बनाया था। गेंद से भी उन्होंने कमाल दिखाया और अहम समय पर दो विकेट ले इंग्लैंड को परेशानी में डाला था।

–आईएएनएस