खुशखबरी: पराली बनेगी किसानेां की आय का स्रोत: केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री

0
State Union Agriculture Minister says Farmers income will increase in 2022

बीकानेर। केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ( State Union  Agriculture Minister) ने कहा है कि देशभर में सरसों की फसल को निकालने के बाद बची पराली आने वाले दिनों में आम किसानेां की आमदनी का स्रोत बनेगी। इसके लिए कार्य जारी है। वर्ष 2022 तक देश के किसानों की आय दुगुनी (Farmers income will increase in 2022) करने के लक्ष्य के साथ कृषि मंत्रालय लगातार काम कर रहा है।

केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने भारतीय जनता पार्टी, बीकानेर संभाग की संगठनात्मक सरंचना बैठक के बाद संवाददाताअेां से कहा कि किसानों को वर्तमान समय के दौर में जैविक खेती की को अपनाना चाहिए, इससे उनकी आमदनी में सुधार होगा। जैविक खेती की तकनीक किसान के लिए सस्ती, सरल और स्वास्थ्यवर्धक साबित हो सकती है, इससे हमारे उत्पादक और उपभोक्ता दोनों को लाभ होगा।


चौधरी ने कहा कि जैविक खेती को बढ़ावा देने और कृषि रसायनों पर निर्भरता कम करने के लिए परम्परागत कृषि विकास योजना की शुरुआत हो गयी है। जिसके तहत सरकार मिट्टी की सुरक्षा और लोगों के स्वास्थ्य के मद्देनजर जैविक खेती को बढ़ावा देना ही बेहतर समझा गया है।

उन्होेने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना किसानों के लिए लाभदायी सिद्व हो रही है। इसमें अभी तक देशभर में 7.22 करोड़ किसान परिवारों को लाभ मिल चुका लाभ और 34,173 करोड़ रुपये किसानों के खातों में अभी तक हस्तांतरित हो चुके है। इसके साथ ही योजना के तहत प्रत्येक किसान को 6,000 रुपये की वार्षिक आर्थिक सहायता केंद्र सरकार प्रदान कर रही है।

केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री ने कहा कि अभी जो पराली किसान खेतों में जला रहे है वह किसानेां के लिए आय का स्रेात बनेगी। ये पराली हमारे ईंधन, टाइल, मशरुम की पैदावार, खाद और चारे के रुप में काम आएगी।

अमेजन इंडिया पर आज का शानदार ऑफर देखें , घर बैठे सामान मंगवाए  : Click Here

www.hellorajasthan.com की ख़बरें फेसबुकट्वीटर और सोशल मीडिया पर पाने के लिए हमें Follow करें.