जीमण 2019: दाॅ राजस्थान एसोसियेशन लंदन में बिखेर रही राजस्थानी संस्कृति की खूशबू

0
Rajasthan Culture Spread in London, The Rajasthan Association London, The Rajasthan Association Harrow-London,, Claremont High School, Harrow, London HA3 0UH, the Rajasthan Association UK (TRA-UK), ` Rajasthani desert, Rajasthan Culture, London Hindi News, Rajasthani iN London,

हैरो/लंदन। सात समुंद्र पार राजस्थानी माटी और संस्कृति की महक को दाॅ राजस्थान एसोसियेशन यू.के.(The Rajasthan Association U.K.) ने जीमण 2019 (JEEMAN 2019) के रुप में संजोये रखा है। इस बार आयेाजन कलेरे माउंट हाई स्कूल, हैरो, लंदन (Claremont High School, Kenton, HA30UH) में आयोजित हेा रहा है। प्रतिवर्ष हेाने वाली इस कार्यक्रम में प्रवासी राजस्थानी एक साथ एक मंच पर आकर जीमण में शिरकत करते है।

दाॅ राजस्थान एसोसियेशन के मीडिया प्रभारी एश्वर्य गोयल बतातें है कि इस कार्यक्रम के तहत् राजस्थानी संस्कृति से रुबरु कराया जाता है, ताकि यंहा रहने वाले राजस्थानी लोगों को अपने प्रदेश की झलक मिल सके। इसलिए राजस्थानियों को राजस्थानी शैली में जीने का अवसर दिया जाता है। इस दिन को यंहा पर लेाग पूरे जोश, उमंग और उत्साह के साथ मनाते है। इसी उमंग और जोश के साथ लेाग राजस्थानी व्यंजनों का भी लुत्फ उठाते है। इस दिन महिलाओं की खुशी का तो ठिकाना ही नही रहता और रंग बिरंगी राजस्थानी पांरपरिक पोशाकों में रेतीले धोरेां की खुशबू की महक आती है।
गोयल बतातें है कि जीमण पर खासतौर से रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की झलक का भी सभी को इंतजार रहता है। इन कार्यक्रमों की तैयारियां बहुत पहले से ही शुरु कर दी जाती है।

इंग्लिश माहौल में राजस्थानी संस्कृति
राजस्थानी रंग और अंदाज इस इंग्लिश माहौल में भी अपनी अलग पहचान रखता है। इस दिन के लिए राजस्थानी लोगों का उत्साह इसमें चार चांद लगा देता है। राजस्थानी गीत, पांरपरिक डै्रस पहनना, राजस्थानी गानेां पर डांस, (राजस्थान के वो गाने जो उन्होने कभी नही सुने), राजस्थानी भाषा में बातचीत करना, राजस्थानी रंग बिरंगे साफे, धोती और जोधपुरी सूट, आन बान और शान का प्रतीक मूंछ के ताव भी यंहा का मुख्य आकर्षण रहता है। इसको यूके में रह रहे राजस्थानी लोगों के लिए यह एक पर्व की तरह से मनाया जाने वाले महापर्व के रुप में भी देखा जा रहा है। इसमें यूके के दूर दराज इलाके में बैठे राजस्थानी भी लंदन आते है।

दाॅ राजस्थान एसोसियेशन बढ़ा रही राजस्थानी परंपरा
दाॅ राजस्थान एसोसियेशन की और से जीमण सहित कई अन्य कार्यक्रमों का आयेाजन किया जाता है, ताकि लोगों को राजस्थानी आन बान शान, पंरपरा, इतिहास और उसकी माटी की महक मिलती रहे। इस प्रकार के आयोजनों में सभी एक मंच पर आते है और आपस में घुल मिलकर बात करते है, नए राजस्थानी दोस्त बनाते है और इस रिश्ते को आगे बढ़ाते है। यह सभी राजस्थानियों का एक सांझा मचं है जो कि 2016 से इस सेवा में लगा हुआ है।

Rajasthan Culture Spread in London, The Rajasthan Association London, The Rajasthan Association Harrow-London,, Claremont High School, Harrow, London HA3 0UH, the Rajasthan Association UK (TRA-UK), ` Rajasthani desert, Rajasthan Culture, London Hindi News, Rajasthani iN London, दाॅ राजस्थान एसोसियेशन की सोशल मीडिया प्रभारी शालिनी वाघेला बताती है कि पहले जीमण की शुरुआत भी 2016 में की गई तब करीब 450 से अधिक लेागों ने इसमें भाग लिया और 2018 मे एक हजार से अधिक राजस्थान के लोगों ने भाग लिया। सभी को जो आयेाजन हेाते है उसकी जानकारी सोशल मीडिया के जरिए ही दी जा रही है। इससे प्रवासी राजस्थानियों को सभी जानकारियां एक साथ मिल जाती है। इससे लोगों का रिस्पासं भी अच्छा मिल रहा है।

शालिनी बताती है कि इस बार लोग इस जीमण का संदेश एक दूसरे के घर जाकर दे रहै है और इसके फोटेाग्राफ एसोसियेशन की सोशलसाइट फेसबुक पर अपलोड कर रहें है। इससे लोगेां में उत्साह और उमंग का जोश कई गुणा बढ़ रहा है।

एसोसियेशन की मीडिया विभाग की प्रभारी पुष्पा सियाग बतातीं है कि जीमण 2019 को लेकर तैयारियों को पहले ही शुरु कर दिया जाता है। आपस में टीम की समय पर बैठक, जिसमें वालंटियर की टीमें बनाकर उन्हे इस कार्यक्रम की जिम्मेदारी दी जाती है। जब इवेंट आता है तो यही टीमें अपने काम को बखूबी करते है। इनकी कड़ी मेहनत से ही इस इवेट में चार चांद लग जाते है।

 

www.hellorajasthan.com की ख़बरें फेसबुकट्वीटर और सोशल मीडिया पर पाने के लिए हमें Follow करें.