अधिकारी संवेदनशीलता से करें कार्यवाही – डॉ. पूनिया

बीकानेर। राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष डॉ. पी एल पूनिया ने कहा कि अनुसूचित जाति वर्ग के लोगों पर उत्पीडऩ के प्रकरणों पर संबंधित अधिकारी संवेदनशीलता से कार्यवाही कर, पीडि़त पक्ष को राहत दिलाएं।
डॉ. पूनिया सर्किट हाऊस सभागार मेें जिला स्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति वर्ग पर अत्याचार होने की जानकारी मिलते ही वरिष्ठ अधिकारी स्वयं घटनास्थल पर जाकर जमीनी हकीकत का जायजा लें। उत्पीडऩ के प्रकरणों पर शीघ्रता से समुचित कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। पूनिया ने अनुसूचित जाति वर्ग से संबंधित विभिन्न मामलों की तथ्यात्मक जानकारी लेते हुए संबंधित अधिकारियों को दिशानिर्देश दिए। भानीपुरा के भीखाराम की कृृषि भूमि के सीमाज्ञान के लंबित प्रकरण पर बताया गया कि इस संबंध में आवश्यक कार्यवाही आरंभ कर दी गई है। राजकीय प्राथमिक विद्यालय, ग्राम टांट,नोखा में अध्ययनरत छात्रों से अभद्र व्यवहार के प्रकरण पर बताया गया कि इस मामले में पुलिस द्वारा जांच के उपरांत एफ आर प्रस्तुत कर दी गई है। जिला पुलिस अधीक्षक ने अनुसूचित जाति वर्ग से संबंधित दर्ज मामलों में पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही से डॉ. पूनिया को अवगत कराया।
इस अवसर पर जिला कल€टर पूनम, माध्यमिक शिक्षा निदेशक बी एल स्वर्णकार, जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. अमनदीप सिंह कपूर, आयोग निदेशक राजकुमार, अतिरि€त कल€टर (प्रशासन) हरिप्रसाद पिपरालिया, अतिरि€त कल€टर (शहर) एस के नवल, नगर विकास न्यास सचिव अजय असवाल, अतिरि€त शिक्षा निदेशक ( प्रारंभिक) अजीत सिंह, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक एल डी पंवार सहित विभिन्न अधिकारी उपस्थित थे।